SwadList (Part42) वाराणसी का “बाटी चोखा”

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part42#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 आज का स्वाद है वाराणसी समेत पूरे पूर्वांचल का प्रसिद्ध भोजन #बाटी_चोखा. यूँ तो वाराणसी के कोने कोने में बाटी चोखा की छोटी-बड़ी कई दुकानें हैं पर हमारे टूर के दौरान हमें इसका स्वाद लेने का अवसर मिला “बाटी-चोखा” के नाम वाले ही एक रेस्टोरेंट पर जो कि स्थित है वाराणसीपढ़ना जारी रखें “SwadList (Part42) वाराणसी का “बाटी चोखा””

Swadlist (Part 41) क्षीर सागर का “खीर मोहन”

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part41#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 आज कुछ मीठा हो जाए 😁वाराणसी की एक प्रसिद्ध मिठाई की दुकान है “क्षीर सागर” जो कि मुख्यतः अपनी “बंगाली मिठाइयों” के लिए प्रसिद्ध है … यहीं की एक विशेष मीठा है “खीर मोहन”. वाराणसी फ़ूड टूर के दौरान क्षीर सागर के महमूरगंज स्थित आउटलेट पर “खीर मोहन” का स्वाद लेनेपढ़ना जारी रखें “Swadlist (Part 41) क्षीर सागर का “खीर मोहन””

SwadList (Part40) बनारस की रबड़ी वाली लस्सी

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part40#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 दही की मीठी लस्सी हम सब ने कभी ना कभी ज़रूर पी होगी और अधिकतर लस्सी के मुख्य इंग्रीडीयंट दही व चीनी होने के कारण लस्सी का स्वाद दही की हल्की सी खटास और चीनी की मिठास का मिला जुला स्वाद होता है. आज का स्वाद है एक विशेष प्रकारपढ़ना जारी रखें “SwadList (Part40) बनारस की रबड़ी वाली लस्सी”

SwadList (Part39) खोये की जलेबी

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part39#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 मित्रों …. आज का स्वाद एक ऐसी जलेबी जो आम जलेबी की तरह से बलदार ना होकर बिलकुल सीधी और गोल है. यह दिखने में लीची जैसी गोल और रसदार “खोया जलेबी” मिलती है “गौरी शंकर कचौरी वाले” के यहाँ जो स्थित है वाराणसी के गौदोलिया चौक से कुछ आगेपढ़ना जारी रखें “SwadList (Part39) खोये की जलेबी”

SwadList (Part38) BHU का बाबा मिल्कशेक

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part38#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 बनारस जहाँ एक ओर खान-पान की अपनी पुरातन संस्कृति एवं प्राचीन खाने-पीने की दुकानों के लिए प्रसिद्ध है वहीं दूसरी ओर आधुनिक एवम् ब्राण्डेड खाना पीना भी वहाँ उसी गति से विकसित हुआ है. आज का स्वाद बनारस के BHU कैंपस से ….. BHU अर्थात “बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय” जिसे स्थानीयपढ़ना जारी रखें “SwadList (Part38) BHU का बाबा मिल्कशेक”

SwadList (Part37) काशी चाट भंडार की “चूरा-मटर की चाट”

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part37#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 आज का स्वाद फिर एक बार काशी यानी कि बनारस से है और इसका नाम है “चूरा मटर” की चाट. बनारस में गोदोलिया चौराहे से कुछ आगे चर्च के पास स्थित “काशी चाट भंडार” वालों की दुकान की यह एक विशेष चाट है जो कि तवे पर एकदम ताज़ी बनापढ़ना जारी रखें “SwadList (Part37) काशी चाट भंडार की “चूरा-मटर की चाट””

SwadList (Part36) कचौरी-सब्ज़ी और जलेबी संग गाली

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part36#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 मित्रों …… आप अगर किसी दुकान से कुछ खाने के लिए ख़रीदते हैं और ख़रीदारी के दौरान दुकानदार आपको #गाली दे तो आपको कैसा लगेगा ?? स्वाभाविक है कि बुरा लगेगा…… परंतु आज हम जिस स्वाद की बात करने जा रहे हैं उसकी USP ही है #स्वाद_के_साथ_गाली. बनारस के लंका पर रविदास गेटपढ़ना जारी रखें “SwadList (Part36) कचौरी-सब्ज़ी और जलेबी संग गाली”

SwadList (Part35) बनारस की विशेष “दूध रोटी”

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part35#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 कभी-कभी कुछ स्वाद किसी यात्रा में जाने-अनजाने मिल जाते हैं. ऐसा ही एक स्वाद वाराणसी की हाल ही की यात्रा में मिला जिसका नाम है “#दूध_रोटी” हुआ यूँ कि बनारस यात्रा में शिवाला इलाक़े में जिस होटल में हम लोगों ने अपना रैन बसेरा किया हुआ था वहाँ से कुछपढ़ना जारी रखें “SwadList (Part35) बनारस की विशेष “दूध रोटी””

SwadList (Part34) राम भंडार की देसी घी की पूरी-सब्ज़ी

ॐ ।। #भारत_के_5000_स्वाद_Part34#SwadList नमस्कार मित्रों 🙏 बनारस का “स्टेपल फ़ूड” अर्थात रोज़मर्रा का खाना है पूरी और जलेबी. पूरी की यहाँ की स्थानीय भाषा में कचौरी कहा जाता हैं. सुबह के समय लगभग हरेक बनारसी इसी कॉम्बिनेशन का नाश्ता करता हुआ दिखता है ….. वह चाहे सड़क के किनारे किसी ठेले पर हो, किसी ढाबे परपढ़ना जारी रखें “SwadList (Part34) राम भंडार की देसी घी की पूरी-सब्ज़ी”