SwadList (Part57) मंगलवाड़ की दाल-बाटी-चूरमा

ॐ ।।

#भारत_के_5000_स्वाद_Part57
#SwadList

नमस्कार मित्रों 🙏

#sunday_special_daal_bati_churma

आज का स्वाद है राजस्थान को खान-पान के अंतराष्ट्रीय नक़्शे पर पहचान दिलाने वाला “#दाल_बाटी_चूरमा”.

यूँ तो राजस्थान में लगभग हरेक खान-पान के अड्डे पर दाल-बाटी-चूरमा उपलब्ध है परंतु पूरे राजस्थान की सबसे प्रसिद्ध और स्वादिष्ट दाल बाटी मिलती है #शर्मा_भोजनालय” जो स्थित है जयपुर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर चितौड़गढ़ से लगभग 50 किलोमीटर आगे #मंगलवाड़ नामक स्थान पर.

जैसे कश्मीर के बारे में कहा जाता है कि “धरती पर अगर कहीं जन्नत है तो यहीं है…..यहीं है …. यहीं है , ठीक वैसे ही पूरे ब्रह्मांड में सबसे स्वादिष्ट #दाल_बाटी_चूरमा कहीं है तो यहीं है …. यहीं है …. यहीं है.

आजकल कई रेस्टोरेंट्स में नक़ली ग्रामीण परिवेश वाला माहौल बनाया जाता है और कृत्रिम देसी स्टाइल बनाने का प्रयास किया जाता है जबकि यहाँ पर आपको असली देसी माहौल मिलेगा और सचमुच एक राजस्थानी गाँव में बैठ कर खाना खाने जैसी फ़ील आएगी.

यह भोजनालय इतना विशाल है कि यहाँ सैंकड़ों लोग एक समय में बैठ कर भोजन कर सकते हैं. किचन में लगभग 50 लोगों की टीम लगातार चौबीसों घंटे बड़ी बड़ी भट्टियों में बाटी सेंकने में लगे रहते हैं. एक टीम सलाद काटने में और एक टीम बड़े से भगौने में दाल बघारने में लगातार काम करती है.

यहाँ पर लोग दूर दूर से विशेष रूप से सिर्फ़ खाना खाने आते हैं….एकदम उत्कृष्ट क्वालिटी के साथ साथ यहाँ की विशेषता है खाने के एकदम सस्ते दाम (फ़ोटो में मेन्यू देखें)

खिलाने का स्टाइल भी एकदम देसी-विदेशी का मिक्स्चर…. टेबल पर बाटियाँ आपके ऑर्डर के अनुसार ऊपर से देसी घी दाल कर आपकी प्लेट में दी जाती हैं और दाल आपको एक बड़े बर्तन में दे दो जाती है जिसे आप अपनी आवश्यकता अनुसार अपनी प्लेट में ले सकते हैं. इसके साथ साथ देसी घी के गर्मागर्म चूरमा लड्डू परोसा जाता है.

यहाँ के संस्थापक “कालू राम शर्मा” बताते हैं कि उन्होंने यहाँ पर अपना काम 50 वर्ष पूर्व एक छोटे से ढाबे के रूप में किया था. आज उनके पोते उनके साथ काम सम्भालते हैं. कुल मिला कर एक अलग प्रकार का अनुभव है यहाँ शर्मा भोजनालय पर दाल बाटी चूरमा खाना.

गूगल लोकेशन : https://goo.gl/maps/ecpiBPpmQBpvNsLt5

SwadList रेटिंग : 5 स्टार *****

आपकी प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा में 🙏

आपका अपना ….. पारुल सहगल 😊

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: